Menu Close

Ik Mulaqaat Song Lyrics in Hindi

Ik Mulaqaat Song Lyrics in Hindi

मैं भी हूँ तू भी है आमने सामने
दिल को बहका दिया इश्क़ के जाम ने

मैं भी हूँ तू भी है आमने सामने
दिल को बहका दिया इश्क़ के जाम ने
मुसलसल नज़र बरसती रही
तरसते हैं हम भीगे बरसात में

इक मुलाक़ात…
इक मुलाक़ात में, बात ही बात में
उनका यूँ मुस्कुराना गज़ब हो गया
कल तलक वो जो मेरे ख़यालों में थे
रूबरू उनका आना गज़ब हो गया

मोहब्बत की पहली मुलाक़ात का
असर देखो ना जाने कब हो गया
इक मुलाक़ात में, बात ही बात में
उनका यूँ मुस्कुराना गज़ब हो गया

मख्तबर दर्द का कुछ ख़याल नही है
इक तरफ मैं कहीं, इक तरफ दिल कहीं

आँखों का ऐतबार मत करना
ये उठे तो क़त्ल-ए-आम करती हैं
कोई इनकी निगाहों पे पहरा लगाओ यारों
ये निगाहों से ही खंजर का काम करती हैं

मख्तबर दर्द का कुछ ख़याल नही है
इक तरफ मैं कहीं, इक तरफ दिल कहीं
एहसास की ज़मीन पे क्यूँ धुआँ उठ रहा है
जल रहा दिल मेरा क्यूँ पता कुछ नही

क्यूँ ख़यालों में कुछ बर्फ सी गिर रही
रेत की ख़्वाहिशों में नमी भर रही
मुसलसल नज़र बरसती रही
तरसते हैं हम भीगे बरसात में

एक मुलाक़ात…
इक मुलाक़ात में, बात ही बात में
उनका यूँ मुस्कुराना गज़ब हो गया
कल तलाक़ जो मेरे ख़यालों में थे
रूबरू उनका आना गज़ब हो गया

मोहब्बत की पहली मुलाक़ात का
असर देखो ना जाने कब हो गया
इक मुलाक़ात में, बात ही बात में
उनका यूँ मुस्कुराना गज़ब हो गया

Ik Mulaqaat Song Lyrics in Hindi

Like and Share
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Subscribe for latest updates

Loading

Beautiful Indian Women సచిన్ ఐపీఎల్‌ 2022 బెస్ట్ 11 ప్లేయర్స్