Menu Close

Ghar Se Nikalte Hi Lyrics in Hindi

Ghar Se Nikalte Hi Lyrics in Hindi

घर से निकलते ही
कुछ दूर चलते ही
रस्ते में है उसका घर
पहली दफ़ा मैंने
जब उसको देखा था
सांसें गयी ये ठहर

रहती है दिल में मेरे
कैसे बताऊँ उसे
मैं तो नहीं कह सका
कोई बता दे उसे

घर से निकलते ही
कुछ दूर चलते ही
रस्ते में है उसका घर

उसकी गली में है ढली
कितनी ही शामें मेरी
देखे कभी वो जो मुझे
खुश हूँ मैं इतने में ही

मैंने तरीके सौ आजमाए
जाके उसे ना कुछ बोल पाए
बैठे रहे हम रात भर

जो पास जाता हूँ
सब भूल जाता हूँ
मिलती है जब ये नज़र

घर से निकलते ही
कुछ दूर चलते ही
रस्ते में है उसका घर

कल जो मिले वो राहों में
तो मैं उसे रोक लूं
उसके दिल में क्या है छिपा
इक बार मैं पूछ लूं

पर अब वहाँ वो रहती नहीं है
मैंने सुना है वो जा चुकी है
खाली पड़ा है ये शहर

मैं फिर भी जाता हूँ
सब दोहराता हूँ
शायद मिले कुछ खबर

हो.. हम्म..

घर से निकलते ही
कुछ दूर चलते ही
रस्ते में है उसका घर.. ..

Ghar Se Nikalte Hi Lyrics in Hindi
Hindi Old Songs Lyrics
Hindi Love Songs Lyrics

Like and Share
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!

Subscribe for latest updates

Loading

Beautiful Indian Women సచిన్ ఐపీఎల్‌ 2022 బెస్ట్ 11 ప్లేయర్స్